Mahashivratri Belief: शिवरात्रि मनाने के पीछे क्या है मान्यता?

Mahashivratri Belief कहते है कि भगवान् भोले पर जिसकी भी कृपा रहती है उसका जीवन पूरी तरह सफल और सुखमय हो जाता  है. एसा ही है भोलेबाबा का आशीर्वाद. और जो भी भोलेनाथ की उपासना करना है उसके ऊपर भगवान् महांकाल की दया दृष्टि बनी रहती है. 

Mahashivratri Belief in Indian Society

Mahashivratri Belief
कहते है कि भगवान् भोले पर जिसकी भी कृपा रहती है उसका जीवन पूरी तरह सफल और सुखमय हो जाता है. एसा ही है भोलेबाबा का आशीर्वाद. और जो भी भोलेनाथ की उपासना करना है उसके ऊपर भगवान् महांकाल की दया दृष्टि बनी रहती है.
 
और काल भी उसका कुछ बिगाड़ नहीं सकता. कहते भी है न कि अकाल म्रत्यु वो मरे जो काम करे चंडाल का काल,भी उसका क्या बिगड़ेगा जो भक्त है महांकाल का”. ऐसे ही है हमारे महांकाल बाबा. कहते है कि भोले बाबा बड़े ही गुस्से वाले है और एक बार अगर उन्हें क्रोध आ जाए तो समझो प्रलय निश्चित है. लेकिन कहा जाता है कि भगवान् शंकर जितने गुस्से वाले है उतनी जल्दी वे अपने भक्तो की बात को सुन लेते है. इसलिए संसार में भोलेनाथ को भोले बाबा कहा गया है. 
 
महिलाये और कुंवारी लड़कियां भगवान् भोलेनाथ का उपवास करती है. और मान्यता तो ये है कि कुंवारी लड़कियां भगवान् शंकर का उपवास एक अच्छे वर को प्राप्त करने के लिए करती है. कहते है कि भगवान् शिव का उपवास करने से कुआंरी लडकियों को अच्छे वर की प्राप्ति होती है. तो कुछ एसी है भगवान् शिव की महिमा. भोलेनाथ इतने भोले है कि उनसे राक्षस भी वरदान मांगते है तो वे अपने भक्त को कभी निराश नहीं करते है. इस शिवरात्रि पर आप भी भोले बाबा के दर्शन कर अपने जीवन को सरल और खुशहाल बनाए। 
Top 10 Interesting Facts About Prime Minister Rishi Sunak Top 10 Interesting Facts About Dwayne Johnson Top 10 Interesting Facts About Black Adam House of the Dragon Episode 9 Recap Daddy Issues