Baba ka dhaba | रक्षक बना भक्षक

Baba ka dhaba | रक्षक बना भक्षक

Delhi News: #Babakadhaba कुछ दिनों पहले दक्षिण दिल्ली के मालवीय नगर में ‘बाबा का ढाबा’ नाम से सोशल मीडिया पर एक दम्पति काफी मशहूर हुए थे।  कारण इस दम्पति की माली हालत देखकर, गौरव वासन नामक यूट्यूबर ने इस दम्पति का एक वीडियो बनाकर वायरल कर दिया था। अब “बाबा का ढाबा” ( Baba ka dhaba ) के मालिक कांता प्रसाद ने इंस्टाग्राम इनफ्लुएंसर व यूट्यूबर गौरव के खिलाफ धन की हेराफेरी की शिकायत पुलिस थाने में दर्ज कराई है। स्थानीय पुलिस ने रविवार को यह जानकारी दी।

मिली जानकारी के मुताबिक, हाल ही में बुजुर्ग दम्पति कांता प्रसाद (80) का एक वीडियो सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर शेयर किए जाने के बाद वे काफी लोकप्रिय हो गए। यह वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ था, जिसमें उन्होंने लॉकडाउन के दौरान दुकान न चल पाने से आर्थिक तंगी को लेकर अपनी व्यथा बतायी थी।

इतना ही नहीं, बाबा का ढाबा  ( Baba ka dhaba ) के बुजुर्ग ने यूट्यूबर वासन के सोशल मीडिया अकाउंट पर साझा किए गए वीडियो में अपने जीवन के संघर्ष के बारे में बात की थी। स्थानीय पुलिस को दी गई अपनी शिकायत में, प्रसाद ने कहा कि वासन ने उनका वीडियो शूट किया और इसे ऑनलाइन पोस्ट किया और सोशल मीडिया पर जनता को उन्हें पैसे देने की अपील की।

READ  Father's Day: Heart Touching Poem on Dad

Baba ka dhaba के बुजुर्ग दम्पति ने लगाया धोखाधड़ी का आरोप

उन्होंने आरोप लगाया कि वासन ने जानबूझकर केवल अपने और अपने परिवार/दोस्तों के बैंक विवरण और मोबाइल नंबर दानदाताओं के साथ साझा किए और शिकायतकर्ता को कोई भी जानकारी प्रदान किए बिना विभिन्न प्रकार के भुगतानों के माध्यम से दान की भारी राशि एकत्र की। आपको बता दे कि सोशल मीडिया ट्विटर पर मैग्गी नामक लड़की ने भी इस मामले में ट्वीट किया है।

ढाबे पर घटी ग्राहकों की संख्या- बाबा का ढाबा के मालिक कांता प्रसाद के यहां ग्राहकों की संख्या धीरे-धीरे कम होती जा रही है। वीडियो वायरल होने के शुरुआती दिनों में रोजाना 10 से 12 हजार रुपये की बिक्री हो रही थी। जो अब घटकर तीन से पांच हजार रुपये रह गई है। नवरात्र से पहले तक वह सारे खर्चे निकालकर रोज करीब तीन हजार रुपये कमा लेते थे। अब उनकी रोजाना की कमाई 1200-1500 रुपये रह गई है।

READ  प्राचीन शासक और 21वी सदी के नेता का राजनीतिक नाता

गौरव वासन ने धोखाधड़ी से किया इंकार 

फ्रीकी फंटूश से बातचीत में गौरव वासन ने कहा कि उन्होंने पूरे पैसे प्रसाद के अकाउंट में ट्रांसफर किए हैं. आरोपों से इनकार करते हुए वासन ने कहा, “जब मैंने वीडियो शूट किया, तब मुझे नहीं मालूम था कि ये इतना वायरल हो जाएगा. मैं नहीं चाहता था कि लोग बाबा को परेशान करें, इसलिए मैंने अपनी बैंक डिटेल्स दीं.” कुछ यूट्यूबर्स ने आरोप लगाया है कि वासन को डोनेशन में 20 से 25 लाख रुपये मिले हैं. वासन ने इससे भी इनकार किया है.

READ  OMG : DAVP removes 269,556 Newspaper Titles & 804 Newspapers from Advertisement List

ऐसे फेमस हुआ था “बाबा का ढाबा” 

ऐसे फेमस हुआ था ‘बाबा का ढाबा’ 7 अक्टूबर 2020 को, यू-ट्यूबर गौरव वासन ने दिल्ली के मालवीय नगर स्थित ‘बाबा का ढाबा’ ( Baba ka dhaba ) का एक वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट किया था. ढाबे की माली हालत दिखाते इस वीडियो में उन्होंने लोगों से यहां आ कर खाना खाने और दंपत्ति की मदद करने की अपील की थी.

कांता प्रसाद और उनकी पत्नी पिछले करीब 20 सालों से ये ढाबा चला रहे थे, लेकिन लॉकडाउन के बाद उनकी कमाई न के बराबर हो गई थी. सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद, अगले दिन बड़ी संख्या में लोग ढाबा पर खाना खाने पहुंचे थे. रवीना टंडन, निमरत कौर समेत कई सेलेब्रिटीज ने इस वीडियो को शेयर किया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.