Tag: funny poem

sun poetry in hindi freaky funtoosh

Sun poetry in hindi: दास्ताने-दिनकर,युगों-युगों से सिने में

Sun poetry in Hindi युगों–युगों से सिने में आग लिए, मैं पल–पल जलता–पिघलता हूँ, किसे सुनाऊं“दास्ताने–दिनकर“, कैसे सांझ–सवेरे ढलता निकलता हूँ |   चन्दा–चकोरी की, प्रेम कहानी जग जाने, टूटते तारों पे मन्नतें, मांगते है ये जमाने, कोई ज़र्रा नहीं […]

Continue Reading
Children Poetry in Hindi freaky funtoosh

Children Poetry in Hindi: ना दूध ना चाय बस दारु-सुट्टा…

        Children Poetry in Hindi        दिल तो बच्चा है जी ना दूध ना चाय माँगता है जी उठते सोते बस दारु–सुट्टा माँगता है जी चूँकि दिल तो बच्चा है जी |       […]

Continue Reading