Devotional Poetry in Hindi Entertainment 

Devotional Poetry: हे मानवों सब्र करो कि करिश्मा है होने वाला

Devotional Poetry in Hindi हे मानवों ! सब्र करो कि करिश्मा है होने वाला, कौन है नासूर,कौन है नम्र-निराला  ?            किसने सुमिरन किया,किसने मुख न खोला ?  कौन है सत्य-साईं,कौन है झूठ बोला ?  देख रहा है सब कुछ वो दीन – दयाला |               हे मानवों ! सब्र करो कि करिश्मा है होने वाला,    किसने पुन्य किया,किसने पाप है पाला ?    कौन है दाता दानी,कौन है लुटाने वाला ?                …

Read More