Tag: love poem

Tag: love poem

Desi Hot Poetry: महबूबा यूँही नहीं तुम पर मरेगी

Desi Hot Poetry: महबूबा यूँही नहीं तुम पर मरेगी

Desi Hot Poetry in Hindi एक दिन परछाइयां जरुर बोलेगी, अनल बर्फ के आंसू जरुर घोलेगी, समीर को न गिला न शिकवा होगा, ना बदरिया का कोई सिलसिला होगा |…

Romantic Thirst Poetry: जाने किस बरसात,बुझेगी मेरी प्यास

Romantic Thirst Poetry: जाने किस बरसात,बुझेगी मेरी प्यास

उसकी याद दिलाती हे , उसका चेहरा बताती हे, मंद-मंद बहते हुए यूँ गुनगुनाती हे उसका नाम, ये ढलती हुई शाम |     Romantic Thirst Poetry in Hindi उसके…

Forbidden Love Poem: तू जिंदगी ना सही,तेरा एहसास…

Forbidden Love Poem: तू जिंदगी ना सही,तेरा एहसास…

देखो फिर आँखों में नमी–सीछा गई है, वो सूरत जोआँखों से ओझल हुई नहीं कभी, वो यादें जो ख्यालों से दूर गई नहीं कभी, आज वो चुपके से फिर ख़्वाबों…